Home राज्य उत्तर प्रदेश वाराणसी : ‘सेवा पखवाड़ा’ के तहत जिले में लगा ‘मेगा ब्लड डोनेशन...

वाराणसी : ‘सेवा पखवाड़ा’ के तहत जिले में लगा ‘मेगा ब्लड डोनेशन कैंप’, मंत्री अनिल राजभर, रविन्द्र जायसवाल समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने किया रक्तदान

10
0

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पर शुरु हुए ‘सेवा पखवाड़ा’ के तहत जिले में शनिवार को ‘मेगा ब्लड डोनेशन कैम्प’ का आयोजन किया गया। साथ ही अन्य स्थानों पर भी रक्तदान शिविर लगाये गये। कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविन्द्र जायसवाल समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने रक्तदान किया। आठ मेगा ब्लड डोनेशन कैम्प में 1118 यूनिट रक्तदान हुआ। इसके साथ ही एक अक्टूबर तक चलने वाला रक्तदान अभियान आज से शुरू हो गया।

‘सेवा पखवाड़ा’ के तहत आयोजित इस कार्यक्रम में ईएसआईसी हास्पिटल के कैम्प में प्रदेश के स्टांप एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के साथ पहुंचे। रक्तदान करने के बाद राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल ने कहा कि रक्तदान के लिए जुटी भीड़ इस बात की ओर इशारा करती है कि लोग अब रक्तदान के महत्व के प्रति काफी जागरूक हो चुके है। उन्होने कहा कि रक्तदान से बड़ा दान कुछ भी नहीं होता। इसलिये सभी को चाहिये कि इस अभियान में अधिक से अधिक संख्या में भाग लें।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कहा कि आपके एक यूनिट रक्तदान से तीन लोगों की जिंदगी बच सकती है। इसलिए इसके प्रति समाज में सभी लोगों को जागरूक होना चाहिए और रक्तदान में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए। उन्होंने ईएसआईसी हॉस्पिटल में कैंप का निरीक्षण कर रक्तदानकर्ताओं को प्रमाण पत्र वितरित किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० संदीप चौधरी ने कहा कि रक्तदान को लेकर अभी भी लोगों को भ्रम रहता है कि रक्तदान करने से उनका शरीर कमजोर हो जायेगा। रक्तदान के प्रति ऐसी धारणा पूरी तरह गलत है। उन्होने कहा कि रक्तदान सभी को करना चाहिए। रक्तदान करके आप दूसरों की तो जिंदगी बचा सकते हैं। खुद को भी कई गंभीर बीमारियों से बचा सकते हैं। रक्तदान करने से मोटापा, ब्लड प्रेशर यहां तक कि दिल की बीमारी जैसे अन्य कई रोगों के होने का खतरा कम हो जाता है।

ईएसआईसी हास्पिटल में लगे मेगा ब्लड डोनेशन कैम्प में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० एके मौर्य, पं.दीन दयाल उपाध्याय चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक डॉ० आरएन सिंह, चिकित्साधिकारी डॉ० अतुल सिंह, डॉ० प्रवीण सोलंकी, डीएचईआईओ हरिवंश यादव समेत स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे। इसके साथ ही जिले में कुल आठ स्थानों पर ‘मेगा ब्लड डोनेशन कैम्प’ का आयोजन किया गया। साथ ही अन्य स्थानों पर भी रक्तदान शिविर लगाये गये।

प्रदेश के श्रम, सेवायोजन एवं समन्वय मंत्री अनिल राजभर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नरपतपुर (चिरईगांव) में रक्तदान किया। उन्होंने कहा कि सभी को रक्तदान में सहयोग करना चाहिए। आपके रक्तदान करने से किसी जरूरतमंद को नई जिंदगी मिलती है। बीएचयू स्थित सर सुन्दर लाल चिकित्सालय में आयोजित मेगा ब्लड डोनेशन कैम्प में कैण्ट के विधायक सौरभ श्रीवास्तव ने रक्तदान किया।

इसी तरह काशी विद्यापीठ ब्लाक में लगे कैम्प में रोहनिया के विधायक सुनील पटेल ने रक्तदान किया। मछली शहर के सांसद बीपी सरोज व पिण्डरा के विधायक डॉ अवधेश सिंह ने पीएचसी बड़ागांव में रक्तदान शिविर का उद्घाटन किया। सीएचसी चोलापुर के कैम्प का अजगरा के विधायक त्रिभुवन राम व सेवापुरी के विधायक नील रतन पटेल ने सीएचसी हाथी में लगे कैंप का उद्घाटन किया। इसके अलावा शहर दक्षिणी के विधायक डॉ० नीलकंठ तिवारी ने आईएमए में लगे शिविर का उद्घाटन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here