Home राज्य उत्तर प्रदेश वाराणसी : ग्रामसभा चित्रसेनपुर में लगा विशेष स्वास्थ्य शिविर, सीएमओ बोले- संचारी...

वाराणसी : ग्रामसभा चित्रसेनपुर में लगा विशेष स्वास्थ्य शिविर, सीएमओ बोले- संचारी व मच्छर जनित रोगों की रोकथाम के लिए विभाग सक्रिय

11
0

वाराणसी। जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में संचारी रोगों की रोकथाम के लिए नियमित कार्रवाई की जा रही हैं। इस क्रम में गुरुवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सेवापुरी के ग्रामसभा चित्रसेनपुर में बुखार से पीड़ित व्यक्तियों के लिए विशेष स्वास्थ्य कैंप लगाया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ० संदीप चौधरी ने बताया कि जिले में संचारी व वेक्टर जनित रोगों के नियंत्रण व रोकथाम के लिए तत्काल प्रभावी कार्रवाई की जा रही हैं। विभाग सक्रिय भूमिका निभा रहा है। ग्रामीण व नगरीय क्षेत्र में जहां भी बुखार के मरीज मिल रहे हैं। उस जगह पर विभाग की टीम जाकर जांच कर रही हैं और आवश्यक दवा भी उपलब्ध करा रही है। इसके साथ ही जिन क्षेत्रों में डेंगू के मरीज पाये जा रहे हैं, वहां फॉगिंग व एंटी लार्वा का छिड़काव भी नियमित किया जा रहा है।

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ० देवदत्त सिंह ने बताया कि चित्रसेनपुर ग्रामसभा में लगाए गए शिविर में करीब 60 से अधिक लोगों की मलेरिया, डेंगू, टाइफाइड और कोविड की जांच की गई। इसमें से कोई व्यक्ति पॉज़िटिव नहीं पाया गया। सफाई कर्मियों द्वारा पूरे क्षेत्र में एंटी लार्वा का छिड़काव कराया गया। बुखार ग्रस्त लोगों को निःशुल्क दवा का वितरण किया गया। इस दौरान खंड विकास अधिकारी एवं प्रभारी चिकित्सा अधिकारी ने क्षेत्र का निरीक्षण भी किया। जिला पंचायत सदस्य की सक्रिय भागीदारी से यह स्वास्थ्य शिविर सफल रहा। शिविर का प्रबंधन स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र चौहान ने किया। स्वास्थ्य शिविर की टीम में चिकित्सा अधिकारी डॉ० सूर्य प्रकाश, किट जांच के लिए स्वास्थ्य पर्यवेक्षक प्रदीप कुमार सरोज, कोविड जांच के लिए रविंद्र कुमार पटेल के साथ ही क्षेत्रीय आशा संगिनी एवं आशा कार्यकर्ताओं ने सहयोग किया।

जिला मलेरिया अधिकारी शरद चंद पांडे ने बताया कि जनपद में अभी तक डेंगू के 12 मरीज पॉज़िटिव पाये गए। यह सभी मरीज शहरी क्षेत्र में मिले हैं। शहर के इन इलाकों जैसे श्रीनगर कॉलोनी, बीएलडबल्यू, खजूही सारनाथ, टकटकपुर, संकट मोचन, हुकुलगंज, आशापुर, सुद्धीपुर, पहड़िया, आखिरी बाईपास, पांडेयपुर, डॉक्टर कॉलोनी में डेंगू के मरीज देखे गए। सभी इलाकों और उसके आसपास के क्षेत्रों पर स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम द्वारा फॉगिंग व एंटी लार्वा का छिड़काव किया जा रहा है जिससे इसको नियंत्रित किया जा सके।

इन बातों का विशेष ध्यान रखें

– घरों के आसपास जल जमाव न होने दें,
– छत पर एवं घर के अंदर अनुपयोगी डिब्बे, पात्र जिसमे जल एकत्र हो सकता हो उसे खाली कर दें,
– कूलर में पानी न रहने दें या हर दूसरे दिन पानी बदलते रहें,
– फ्रिज के पीछे प्लेट में पानी एकत्र न होने दें
– गमलों, नारियल के खोल, या अनुपयोगी टायर, टंकी को जरूर से साफ करवाते रहें, एवं उनमें पानी एकत्र न होने दें।
– मच्छरदानी का प्रयोग अवश्य करें
– पूरी बांह के कपड़े पहने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here