Home राज्य उत्तर प्रदेश Varanasi-Kolkata एक्सप्रेस-वे से यूपी के साथ-साथ इन जगहों पर जाना होगा आसान

Varanasi-Kolkata एक्सप्रेस-वे से यूपी के साथ-साथ इन जगहों पर जाना होगा आसान

81
0

केंद्र सरकार परियोजनाओं के विकास पर लगातार कार्य कर रही है। इसी क्रम में अब वाराणसी से कोलकाता के बीच 600 किलोमीटर लंबे नए एक्सप्रेस-वे का निर्माण किया जाएगा, जो कि बिहार और झारखंड के कई जिलों से होकर गुजरेगा। यहां नया ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे का 8 लेन का निर्माण होगा। इससे यूपी सहित तीन अन्य राज्यों को फायदा मिलेगा। उत्तर प्रदेश के साथ-साथ बिहार, झारखंड और बंगाल के बीच कनेक्टिविटी होगी। इस 8 लेन एक्सप्रेस-वे के बनने से वाराणसी से कोलकाता जाना भी आसान हो जाएगा। वाराणसी से कोलकाता की दूरी भी महज 6 से 7 घंटे में पूरी होगी। यह एक्सप्रेस-वे करीब 1894 करोड़ की लागत से बनाया जाएगा।

एक्सप्रेस-वे से मिलेगा कई जिलों को फायदा

काशी-कोलकाता एक्सप्रेस-वे बिहार में करीब 159 किमी तक होगी जो कैमूर, रोहतास, औरंगाबाद और गया होकर बंगाल में प्रवेश करेगी। कैमूर में 52 किमी, रोहतास में 36 किमी, औरंगाबाद में 38 किमी और गया में 33 किमी होकर सड़क गुजरेगी। इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण से पूर्वांचल के व अन्य जिलों को फायदा मिलेगा। पूर्वांचल के चंदौली जिले के साथ-साथ रांची, बोकारो, औरंगाबाद, भभुआ, सासाराम, पुरुलिया को अच्छी कनेक्टिविटी मिलेगी।

कई प्रोजेक्ट्स को मिली हरी झंडी

दरअसल, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भारत माला प्रोजेक्ट के तहत बिहार में सड़कों का जाल बिछाने के लिए लगातार कई प्रोजेक्ट्स को हरी झंडी दिखा रहे हैं। जानकारी के लिए बता दें कि गाजीपुर-आरा-पटना एक्सप्रेस-वे और वाराणसी-कोलकाता एक्सप्रेस-वे को आरा रिंग रोड से जोड़ने के अलावा दानापुर-बिहटा, बिहटा, कोईलवर फोरलेन का निर्माण दिसंबर 2021 तक जोड़ा जाएगा। इसके साथ-साथ कोईलवर आरा और आरा-बक्सर फोरलेन जून 2022 करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here