Home राज्य उत्तर प्रदेश छात्रों की भौतिक उपस्थिति से फिर गुलज़ार हुआ काशी हिन्दू विश्वविद्यालय परिसर

छात्रों की भौतिक उपस्थिति से फिर गुलज़ार हुआ काशी हिन्दू विश्वविद्यालय परिसर

156
0

वाराणसी : तकरीबन दो साल बाद आज एक बार फिर महामना की बगिया छात्रों की भौतिक उपस्थिति से गुलज़ार हुई। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में कुछ पाठ्यक्रमों के प्रथम एवं सभी पाठ्यक्रमों के द्वितीय वर्ष के छात्रों की ऑफलाइन कक्षाएं आज से आरंभ हो गईं।

पीएचडी एवं अंतिम वर्ष के सभी छात्रों के लिए ऑफलाइन कक्षाएं पहले ही आरंभ हो गई थीं। आज ऑफलाइन कक्षाओं में शामिल होने वाले अनेक छात्र ऐसे भी थे जो इससे पहले बहुत कम ही विश्वविद्यालय परिसर आए थे।

कैम्पस पहुचने पर छात्रों का उत्साह देखने लायक था। छात्रों ने ऑफलाइन कक्षाओं के संचालन व व्यवस्थाओं के प्रति प्रसन्नता जाहिर की। वैश्विक महामारी कोविड19 के कारण देश भर में पिछले लगभग 23 महीनों से विश्वविद्यालयों में पूर्ण रूप से ऑफलाइन कक्षाएं संचालित नहीं हो पा रहीं थीं। कोरोना की स्थिति में सुधार के आलोक में पिछले दिनों कुलपति प्रो. सुधीर कुमार जैन की अध्यक्षता में हुई संस्थानों के निदेशकों एवं संकाय प्रमुखों व विश्वविद्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में ऑफलाइन कक्षाएं संचालित करने के संबंध में निर्णय लिया गया था। इस संबंध में
चिकित्सा विज्ञान संस्थान, कृषि संकाय, पशु चिकित्सा एवं विज्ञान संकाय, प्रबंध शास्त्र संकाय, पर्यावरण एवं संपोष्य विकास संस्थान की सभी कक्षाएं ऑफलाइन मोड में चल रही हैं।

विज्ञान संस्थान, कला संकाय, सामाजिक विज्ञान संकाय, विधि संकाय, शिक्षा संकाय, मंच कला संकाय, दृश्य कला संकाय, वाणिज्य संकाय, संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय एवं महिला महाविद्यालय में प्रथम वर्ष को छोड़ कर सभी कक्षाएं ऑफलाइन मोड में संचालित हो रही हैं।

इन सभी में प्रथम वर्ष की कक्षाएं फिलहाल ऑनलाइन मोड में ही संचालित हों रही हैं। समय के अनुसार स्थिति की समीक्षा के आधार पर प्रथम कक्षाओं के संचालन व परीक्षाओं के बारे में निर्णय लिया जाएगा। छात्रावासों के आवंटन की प्रक्रिया भी चल रही है और यह डबल ऑक्यूपेंसी के आधार पर उपलब्धता के अनुसार किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here