Home राज्य उत्तर प्रदेश वाराणसी : जिले के 23 सरकारी व 158 निजी चिकित्सालयों में तैनात...

वाराणसी : जिले के 23 सरकारी व 158 निजी चिकित्सालयों में तैनात है “आयुष्मान मित्र”

110
0

वाराणसी। अगर आप के पास आयुष्मान कार्ड है और इलाज कराने में कहीं कोई बाधा आ रही है तो आयुष्मान मित्र से सम्पर्क कर आप अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। आयुष्मान मित्र न केवल आप का पांच लाख तक का मुफ्त उपचार कराने में मदद करेंगे बल्कि आपके पास यदि आयुष्मान कार्ड नहीं है और आप उसके पात्र हैं तो वह आपका “गोल्डेन कार्ड” बनवाने में भी मदद भी करेंगे।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संदीप चौधरी ने  बताया कि आयुष्मान कार्ड धारकों की मदद के लिए सरकार ने जिले के 23 सरकारी अस्पतालों में आयुष्मान केन्द्र खोलने के साथ ही वहा आयुष्मान मित्रों की तैनाती कर रखी है। इनमें काशी हिन्दू विश्वविद्यालय स्थित सर सुन्दरलाल चिकित्सालय, मदन मोहन मालवीय कैंसर अस्पताल, होमी भाभा कैंसर अस्पताल, श्री शिव प्रसाद गुप्त मण्डलीय चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय (कबीरचौरा), पं. दीनदयाल राजकीय चिकित्सालय-पाण्डेयपुर, मानसिक चिकित्सालय-पाण्डेयपुर, लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सालय-रामनगर के अलावा शहरी क्षेत्र के दुर्गाकुण्ड, चौकाघाट व शिवपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और ग्रमीण क्षेत्र के सभी आठ ब्लाक के स्वास्थय केन्द्रों में आयुष्मान मित्रों की तैनाती है। इसके अलावा आयुष्मान कार्ड से चिकित्सा के लिए सूचीबद्ध 158 निजी चिकित्सालयों में भी आयुष्मान मित्रों से मदद प्राप्त की जा सकती है।

क्या है आयुष्मान योजना..?

आयुष्मान योजना कमजोर आय वर्ग के लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध कराती है । इस योजना के तहत अस्पताल में भर्ती आयुष्मान कार्ड धारक परिवार का कोई भी सदस्य छोटी से लेकर बड़ी 1450 बीमारियों के पाचं लाख तक का प्रति वर्ष मुफ्त उपचार करा सकता है । योजना का उद्देश समाज के कमजोर वर्ग के अधिक से अधिक लोगों तक चिकित्सा सुविधा पहुचाना है ताकि उनकी गाढ़ी कमाई का पैसा इलाज पर न खर्च हो और मुश्किल वक्त में उन्हें कर्ज के मकड़जाल में न फंसना पड़े।

आयुष्मान कार्ड की पात्रता

वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर कमजोर वर्ग की तैयार सूची में शामिल परिवार को आयुष्मान योजना का पात्र माना गया है । ऐसे पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) प्रदान कर एक तरह की स्वास्थ्य सुरक्षा की गारंटी प्रदान की जाती है । योजना का दायरा बढाते हुए आयुष्मान भारत मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के तहत इसमें कमजोर वर्ग के उन परिवारों को भी शामिल किया गया जो सूची में नहीं आ पाए थे । अब योजना का लाभ निर्माण श्रमिकों व कामगारों के परिवारों, अन्त्योदय कार्ड धारकों और प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को प्रदान किया जा रहा है।

पात्रता की ऑनलाइन या ऑफलाइन कर सकते हैं जाँच

आयुष्मान योजना के दायरे में आप आते हैं या नहीं, इसका पता ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरह से कर सकते हैं। ऑनलाइन पता करने के लिए ऑफिशियल वेबसाइट www.mera.pmjay.gov.in  पर जाएं। फोन कॉल करके भी पात्रता जांच सकते हैं। इसके लिए आप अपने मोबाइल से 14555 या 1800-1800-4444 डायल करें। यह नंबर योजना के टोल फ्री हेल्पलाइन से जुड़े हैं और इन पर हफ्ते के सभी दिन और 24 घंटे किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here